Image Source- istockphoto.com

संघ लोक सेवा आयोग ने सिविल सेवा परीक्षा 2020 का अंतिम परिणाम घोषित कर दिया है। नियुक्ति के लिए कुल 761 उम्मीदवारों की सिफारिश की गई है। शुभम कुमार ने परीक्षा में पहला स्थान हासिल किया है। अव्वल आने वाले उम्मीदवार बिहार के कटिहारी से सम्बंध रखते है। वह भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान’-बॉम्बे से स्नातक हैं। उन्हें यह सफलता दूसरा प्रयास में मिली है। उन्होंने इससे पहले 2019 में सिविल सेवा के लिए प्रयास किया था, जिसमें उन्हें 290 रैंक प्राप्त हुई थी।

भोपाल से जाग्रति अवस्थी दूसरे स्थान पर है और महिलाओं में शीर्ष पर है। 24 वर्षीय जाग्रति एक इंजीनियरिंग स्नातक है। वह 2019 से BHIL में नौकरी कर रही हैं।

सिविल सेवा में अव्वल और आईएएस टीना डाबी की छोटी बहन रिया डाबी ने भी यूपीएससी सीएसई परिणाम में 15वीं रैंक हासिल की है। बड़ी बहन की तरह रिया ने भी दिल्ली यूनिवर्सिटी से पढ़ाई की हैं। वे लेडी श्रीराम कॉलेज से स्नातक है। वे पढ़ाई के अलावा पेंटिंग भी करती है।

इसके अलावा, जामिया मिलिया इस्लामिया की आवासीय कोचिंग अकादमी (आरसीए) से भी 15 छात्रों ने प्रतिष्ठित परीक्षा में सफलता प्राप्त की है। आरसीए को विश्वविद्यालय अनुदान आयोग द्वारा वित्त पोषित किया जाता है, एससी, एसटी, महिलाओं और अल्पसंख्यक श्रेणियों के छात्रों को मुफ्त कोचिंग और आवासीय सुविधाएं प्रदान करता है।

रैंक 1: शुभम कुमार

रैंक 2: जागृति अवस्थी

रैंक 3: अंकिता जैन

रैंक 4: यश जलुक

रैंक 5: ममता यादव

रैंक 6: मीरा के

रैंक 7: प्रवीण कुमार

रैंक 8: जीवनी कार्तिक नागजीभाई

रैंक 9: अपाला मिश्रा

रैंक 10: सत्यम गांधी
लोक सेवा आयोग 2020 का परिणाम आधिकारिक वेबसाइट upsc.gov.in पर उपलब्ध है, हालांकि, उम्मीदवारों के विस्तृत अंक अभी प्रदर्शित नहीं किए गए हैं, ये परिणाम घोषित होने की तारीख से 15 दिनों के भीतर वेबसाइट पर प्रदर्शित किए जायेंगे। आधिकारिक आंकड़ों के अनुसार, कुल 761 उम्मीदवार, 263 सामान्य या अनारक्षित वर्ग से, 86 ईडब्ल्यूएस, 229 ओबीसी, 122 एससी और 61 एसटी वर्ग से हैं। 150 से अधिक उम्मीदवार आरक्षित सूची में हैं। इनमें से 75 छात्र सामान्य, 15 ईडब्ल्यूएस, 55 ओबीसी, पांच एससी और एक एसटी हैं।

आईएएस पद के लिए 180, आईएफएस के लिए 36, आईपीएस अधिकारियों के पदों के लिए 200 उम्मीदवारों को लघुसूचित किया जाएगा। आगे केंद्रीय सेवा समूह ए में 302 और समूह बी सेवाओं में 118 रिक्तियां भरी जाएंगी। यूपीएससी ने एक आधिकारिक नोटिस में कहा, “विभिन्न सेवाओं में नियुक्ति उपलब्ध रिक्तियों की संख्या के अनुसार परीक्षा के नियमों में निहित प्रावधानों को ध्यान में रखते हुए की जाएगी।” यदि किसी छात्र को परिणाम में कोई त्रुटि मिलती है कुछ स्पष्ट करने के लिए, वे यूपीएससी से जुड़ सकते हैं। आयोग ने अपने परिसर में परीक्षा हॉल के पास एक सुविधा काउंटर स्थापित किया है। उम्मीदवार अपनी परीक्षा या परिणाम के बारे में कोई भी जानकारी या स्पष्टीकरण कार्य दिवसों पर सुबह 10 बजे से शाम 5 बजे के बीच प्राप्त कर सकते हैं। हेल्पलाइन नंबर 23385271, 23381125, और 23098543 पर भी संपर्क कर सकते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here