Image Source- Ranjit Instagram Account

बॉलीवुड फिल्मों में काम कर चुके 70 के दशक के मशहूर अभिनेता रंजीत फिल्मों से दूरी बना चुके हैं। वह अपने समय के एक मशहूर कलाकार हैं। और उन्होंने अपने फिल्मी कैरियर में 350 फिल्में की है। रंजीत ज्यादातर फिल्मों में विलेन के किरदार में ही दिखाई देते थे। उन्होंने फिल्मों में रेपिस्ट की भूमिका सबसे ज्यादा अदा की है। फिलहाल रंजीत अपने परिवार के साथ छुट्टियां मना रहे हैं। हाल ही में रंजीत द्वारा एक इंटरव्यू दिया गया, जिसमें उन्होंने बताया कि उनकी किस प्रकार से एक रेपिस्ट की तस्वीर लोगों के दिमाग में बनी हुई है। और कैसे महिलाओं के फैशन की वजह से उनका कैरियर खत्म हो गया।

उन्होंने बताया कि कैसे उनकी हीरोइन को वह सहज महसूस कराते थे। उन्होंने कहा कि, ‘मैं अपनी हीरोइन्स को सहज महसूस करवाने के लिए सब कुछ करता था. मेरे इस अच्छे बर्ताव के कारण ही किसी भी रेप सीन के लिए फ‍िल्म निर्माता मुझे उस सीन के लिए बुलाया करते थे, चाहे मैं उस फिल्म का हिस्सा नहीं भी हूं तब भी.’

रंजीत का फिल्म साइन करने का तरीका

रंजीत ने बताया कि, ‘उन दिनों कोई भी शख्स फिल्म साइन करने से पहले उसकी स्क्र‍िप्ट नहीं पढ़ता था, बल्क‍ि हीरोज को भी सिर्फ एक लाइन सुनाई जाती थी. मेरे जैसे एक्टर्स को लगता था कि अगल फिल्म निर्माता उनके पास आ रहे हैं तो जरूर उनके लायक कोई रोल होगा तभी उन्हें अप्रोच किया जा रहा है.’

उन्होंने आगे कहा कि, ‘मैंने कभी किसी के स्क्र‍िप्ट में दखलअंदाजी नहीं की और ना ही मुझे इसकी जरूरत महसूस हुई. मुझे विलेन का रोल करने में कोई परेशानी नहीं थी. हां, इसकी वजह से शुरुआती समय में कुछ सामाज‍िक नुकसान भी हुआ था. मेरे पर‍िवार को भी बाद में एहसास हो गया कि ये सिर्फ मेरा किरदार है. मैंने कभी अपने कर‍ियर की प्लान‍िंग नहीं की, जो भी मुझे मिला उसी में मैं खुद को ढालता गया.’

रंजीत को रेप स्पेशलिस्ट समझने लगे थे लोग

रंजीत ने यह भी बताया कि फिल्मों में जब वह विलेन का किरदार निभाते थे तो, सबसे ज्यादा रेपिस्ट का किरदार उन्होंने निभाया था। जिसकी वजह से लोग उन्हें रेप स्पेशलिस्ट समझने लगे थे। उन्होंने कहा कि, ‘मैं अपनी हीरोइन्स को सहज महसूस करवाने के लिए सब कुछ करता था. मेरे इस अच्छे बर्ताव के लिए ही किसी भी रेप सीन के लिए फ‍िल्म निर्माता मुझे उस सीन के लिए बुलाया करते थे, चाहे मैं उस फिल्म का हिस्सा नहीं भी हूं तब भी. वे मुझे रेप स्पेलिस्ट कहने लगे थे. उन दिनों ये अश्लील नहीं था, हमारा सेट फॉर्मेट होता था- हीरो, हीरोइन, कॉमेड‍ियन, विलेन, बहन, मां. आज की तरह नहीं कि लव मेक‍िंग सीन्स हो रहे हों.’

‘मैं हमेशा मजाक करता हूं कि फैशन में बदलाव ने मेरे कर‍ियर को खत्म कर दिया. मह‍िलाएं छोटे कपड़े पहनने लगीं, तो फिर कुछ उतारने को ही नहीं रहा.’

रंजीत एक बार जब द कपिल शर्मा प्रोग्राम में आए तो उन्होंने यह भी बताया था कि, उनके घरवाले उनकी फिल्में देखकर उनको घर से बाहर भी भगा दिया करते थे। क्योंकि फिल्मों में वह छेड़छाड़ वाला सीन करते दिखते थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here