Image Source- ANI tweeter

पिछले काफी समय से पंजाब में राजनीतिक स्तर पर युद्ध छिड़ रहा है। कांग्रेस पार्टी से लगातार कई इस्तीफे दिए जा चुके हैं। इन्हीं सबके बीच पंजाब के नए मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी ने शुक्रवार को दिल्ली पहुंचकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात की है।

यह मुलाकात आज शाम 4:00 बजे के आसपास शुरू हुई थी। चन्नी ने दिल्ली पहुंचने के करीब 1 घंटे बाद प्रधानमंत्री से मुलाकात की। इस दौरान मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह ने कई जरूरी मुद्दे प्रधानमंत्री के समक्ष रखे हैं।

मुख्यमंत्री ने खुद बताया कि उन्होंने किस तरह के मुद्दे प्रधानमंत्री के सामने उठाए हैं। उन्होंने बताया कि, “कोई एजेंडा नहीं था, एक कर्ट्सी कॉल थी, लेकिन मैने 3 बातें उनके सामने रखी हैं। एक मौजूदा मुद्दा है कि पंजाब में धान खरीद सीजन शुरू हो रहा है। पहले ऐसा होता था कि पहली अक्टूबर से खरीद शुरू होती थी लेकिन इस बार सरकार ने 11 अक्तूबर से शुरू की है।”

जिसके बाद मुख्यमंत्री चन्नी ने प्रधानमंत्री के सामने मुद्दा रखा की, “पहले कभी भी पोस्टफोन नहीं हुई है खरीद की डेट प्रीपोन जरूर हुई है। प्रधानमंत्री ने इसको सुना है और कहा है कि वे इसका हल ढूंढेंगे। मैने प्रधानमंत्री को कहा है कि जो 3 बिल का झगड़ा है इसे खत्म करो। उन्होंने मेरी बात ध्यान से सुनी है और कहा है कि वो भी इसका कोई हल ढूंढना चाहते हैं और इसी दिशा में चल रहे हैं। किसानों से मैने उनको डायलॉग शुरू करने की बात की है क्योंकि डॉयलॉग से ही बात हल होगी। मैने उनसे कहा है कि तीनों बिल खत्म होना चाहिए।”

उन्होंने आगे बताया कि, “इसके अलावा कुछ ऑर्गेनिक खेती पर भी बात हुई है। सीएम और प्रधानमंत्री के बीच बातचीत होती रहनी चाहिए, अच्छे माहौल और अच्छा प्यार होना चाहिए वो उन्होंने मुझे दिया है, इसके लिए उनका धन्यवाद।”

पंजाब के मुख्यमंत्री चन्नी ने प्रधानमंत्री के साथ और भी कई दूसरे मुद्दों पर विचार-विमर्श किया। चन्नी प्रधानमंत्री से पहली बार मिले हैं। इससे पहले पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री गृहमंत्री अमित शाह से मिल चुके हैं। और चर्चा है कि वह प्रधानमंत्री मोदी से भी जल्दी ही मिलेंगे। इसके अलावा कांग्रेस के अध्यक्ष पद से इस्तीफा दे चुके सिद्धू ने कल ही मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह से मुलाकात की है।

मुख्यमंत्री की मुलाकात प्रधानमंत्री के साथ खत्म हो जाने के बाद, मुख्यमंत्री चन्नी ने बताया कि, “मुख्यमंत्री बनने के बाद प्रधानमंत्री के साथ सौजन्य भेंट थी, अच्छे माहौल में बातचीत हुई. मैंने उनसे तीन बिल का झगड़ा खत्म करने के लिए कहा है उन्होंने कहा कि वो भी इसका हल ढूंढना चाहते हैं.”

उन्होंने कहा, “मैंने किसानों से उन्हें बात शुरू करने की बात की. मैंने कोविड की वजह से बंद हुए भारत-पाकिस्तान कॉरिडोर को तुरंत खोलने के लिए कहा है ताकि श्रद्धालु वहां जाकर अपनी श्रद्धा सुमन भेंट कर सकें.”

मुख्यमंत्री ने सिद्धू के साथ की बातचीत

इससे पहले पंजाब के मुख्यमंत्री ने कांग्रेस पार्टी से नाराज चल रहे सिद्धू के साथ बैठक की, और कई तरह के मामलों में बातें हुई। सिद्धू ने चन्नी को अपनी नाराजगी का कारण बताया, और पंजाब सरकार में जिन नेताओं को पदों के लिए चुना गया है, उन पर भी चर्चा हुई है। यह बैठक कल 2 घंटे तक हुई। इस बैठक को सफल बताया जा रहा है। परंतु कुछ ऐसी भी बातें हैं जिन पर फैसला नहीं हो पाया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here