Image Source- Twitter/ RT_Media _CAPT

पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री एक बार फिर चर्चा का विषय बने हुए हैं। इस बार इस चर्चा का विषय उनका राजनीतिक मुद्दा नहीं बल्कि इस बार मुद्दा उनका फौजी होना है। दरअसल कैप्टन अमरिंदर सिंह एक मिलन कार्यक्रम आयोजित कर रहे हैं, और यह आज शाम से शुरू होकर अगले 4 दिनों तक जारी रहेगा यानी कि 24 तारीख से लेकर 27 सितंबर तक चलेगा।

इस मिलन कार्यक्रम में कैप्टन के साथ जो भी एनडीए में शामिल थे, उन सभी फौजियों को आमंत्रित किया गया है। यह कार्यक्रम चंडीगढ़ में आयोजित किया जा रहा है। कैप्टन अमरिंदर ने इसमें अपने सभी बैचमेट्स को उनके परिवार के साथ निमंत्रण दिया है। कैप्टन अमरिंदर अब पंजाब के मुख्यमंत्री नहीं रहे हैं। इससे पहले जब वे मुख्यमंत्री थे तो उन्होंने तब भी ऐसे मिलन समारोह आयोजित किए हैं।

कैप्टन अमरिंदर सिंह कांग्रेस से बहुत नाराज नजर आ रहे हैं। वह इस पर हमला भी कर चुके हैं। उन्होंने जब इस्तीफा दिया था तो यह भी कहा कि पार्टी उनका बार-बार अपमान करती रही है। वह इससे परेशान हो चुके हैं, और इस्तीफा दे रहे हैं।

उन्होंने यह भी कहा कि अगर उनके साथ पार्टी इस तरह से पेश आ रही है तो, वह जानते हैं कि पार्टी आम कार्यकर्ताओं के साथ कैसे पेश आती होगी। कैप्टन अमरिंदर सिंह ने बुधवार को पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी और प्रियंका गांधी वाड्रा पर भी निशाना साधा। उन्होंने उनको “अनुभवहीन” बताया।

इस पर कांग्रेस प्रवक्ता सुप्रियो श्रीनेत ने भी अपनी प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि, पार्टी में गुस्सा करने के लिए कोई जगह खाली नहीं है। प्रवक्ता के बयान पर, अमरिंदर सिंह ने कहा कि, ‘हां, राजनीति में गुस्से के लिए कोई जगह नहीं होती। लेकिन क्या कांग्रेस जैसी इतनी पुरानी पार्टी में अपमान और परेशान किए जाने के लिए जगह है?’ अमरिंदर सिंह के मीडिया सलाहकार रवीन ठुकराल के एक ट्वीट के मुताबिक, ‘अगर मुझ जैसे वरिष्ठ नेता के साथ इस तरह का व्यवहार हो सकता है तो मुझे आश्चर्य है कि कार्यकर्ताओं के साथ क्या होता है : कैप्टन अमरिंदर सिंह।’

जब कैप्टन अमरिंदर सिंह से इस्तीफा लिया गया तो उन्होंने उसके बाद बताया कि कांग्रेस पार्टी ने उन्हें बार-बार अपमानित किया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here