13/September/2021, 21:39

image source- ANI

गुजरात में विजय रूपाणी अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले अपने मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा दे चुके हैं। एवं उनके इस्तीफा देने के अगले दिन ही बीजेपी ने गुजरात का नया मुख्यमंत्री भूपेंद्र पटेल को बनाया, जिसके बाद सोमवार को भूपेंद्र पटेल ने मुख्यमंत्री पद की शपथ ली। रविवार को उनका नाम मुख्यमंत्री पद के लिए चुना गया, एवं यह घोषणा की गई कि वह गुजरात के अगले मुख्यमंत्री होंगे। अभी तक भूपेंद्र पटेल शपथ ले चुके हैं, लेकिन कैबिनेट में अभी तक किसी भी प्रकार का कोई बदलाव नहीं हुआ है।

मुख्यमंत्री के शपथ ग्रहण समारोह के लिए गांधीनगर में स्थित राजभवन में एक कार्यक्रम आयोजित कराया गया, जिसमें गुजरात के मुख्यमंत्री भूपेंद्र पटेल ने मुख्यमंत्री पद की शपथ ली। जब उन्होंने शपथ ली तब केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह, हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर, मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, गोवा के मुख्यमंत्री प्रमोद सावंत, एवं कर्नाटक के मुख्यमंत्री बसवराज बोम्मई भी शामिल थे।

भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अभी भूपेंद्र पटेल को गुजराती भाषा और अंग्रेजी भाषा में ट्वीट के जरिए से बधाई दी।

विधायक बनने के बाद बने मुख्यमंत्री

भूपेंद्र पटेल बीजेपी में पहली बार विधायक बने थे एवं विधायक बनने के तुरंत बाद उन्हें गुजरात का मुख्यमंत्री बनाया गया। भूपेंद्र पटेल की उम्र 59 साल है। वह गुजरात में घाटलोदिया विधानसभा सीट से बीजेपी में विधायक हैं। उनसे पहले गुजरात में 16 मुख्यमंत्री बने हैं। इस हिसाब से वह गुजरात के 17वे मुख्यमंत्री बन चुके हैं। गुजरात के पूर्व मुख्यमंत्री आनंदीबेन पटेल के राज्यपाल बनने के बाद जो सीट उनकी बची थी उसी सीट से भूपेंद्र पटेल भी विधायक बने हैं। वह आनंदी पटेल के काफी करीबी माने जाते हैं।

चौंकाने वाला था भूपेंद्र पटेल का मुख्यमंत्री बनना

भूपेंद्र पटेल गुजरात के मुख्यमंत्री बन तो चुके हैं. लेकिन उनको बीजेपी मुख्यमंत्री बनाएगी इसका किसी को अंदाजा नहीं था, जिन नामों को लेकर यह सोचा जा रहा था कि गुजरात के मुख्यमंत्री इनमें से होंगे उनमें भूपेंद्र पटेल का नाम शामिल नहीं था। उनके परिवार का कहना है कि इस बारे में उनको भी कोई जानकारी नहीं थी। उनको इसकी जानकारी टीवी के माध्यम से पता चली कि भूपेंद्र पटेल को गुजरात का मुख्यमंत्री बनाया गया है।

आखिर क्यों दिया विजय रूपाणी ने इस्तीफा?

कहा जा रहा है कि गुजरात की जनता विजय रूपाणी के कामों से खुश नहीं थी। जनता में उनके खिलाफ गुस्सा था और अगले साल राज्य में विधानसभा चुनाव होंगे ऐसे में विजय रूपाणी को गुजरात का मुख्यमंत्री बनाए रखना बीजेपी को खतरे की घंटी लग रहा था, जिसकी वजह से विजय रूपाणी ने इस्तीफा दे दिया। ऐसा सिर्फ गुजरात में ही नहीं और भी अन्य कई राज्यों में बीजेपी अपने मुख्यमंत्रियों को बदल चुकी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here