मेंटल हेल्थ से जुड़ी हुई समस्याओं से बचे रहने के लिए जरूरी है कि हमें इस बारे में पूरी जानकारी हो। कई बार इस हालात से गुजर रहे इंसान को भी ये नहीं पता है कि वह किसी प्रकार की मानसिक समस्या से जूझ रहा है।

मनुष्य के शरीर की सारी कार्यप्रणाली उसके मस्तिष्क पर ही निर्भर करती है। हर एक छोटे-से छोटा काम हो या चाहे फिर कोई बड़ा काम, सारे फैसले दिमाग के जरिए ही होते हैं। कभी-कभी दिमाग की कार्य क्षमता बुरी तरह से प्रभावित हो जाती है और लोगों को किसी न किसी प्रकार की मानसिक बीमारी का सामना करना पड़ता है। इस दौरान लोगों के कार्य करने की क्षमता के साथ-साथ उनके व्यवहार और उनकी क्वालिटी ऑफ लाइफ भी बुरी तरह प्रभावित हो जाती है। यह मेंटल हेल्थ से जुड़ी एक ऐसी समस्या है, जिससे बचे रहना बहुत जरूरी है।

Mental Health Conditions Seen in Childhood | NAMI: National Alliance on Mental  Illness

मानसिक बीमारी एक ऐसी बीमारी होती है जो किसी भी व्यक्ति की सोच, फीलिंग, मूड, व्यवहार आदि में बदलाव ला देता है। डिप्रेशन, तनाव, बिपोलर डिसऑर्डर भी इसी मानसिक बीमारी का एक हिस्सा है। ऐसी स्थिति अगर लगातार कुछ समय तक बनी रहती है तो वह किसी इंसान की दिनचर्या को नकारात्मक रूप से बदलने लगती है।

इसका मेंटल हेल्थ से कैसा जुड़ाव है ?

मानसिक बीमारी हमारे मानसिक स्वास्थ्य से सीधे तौर पर जुड़ी हुई है। मेंटल हेल्थ की बात करें तो इसमें इमोशनल, साइक्लोजिकल और सोशल वेल बीइंग जैसे बिंदु शामिल हैं। हमारा मानसिक स्वास्थ्य इस बात पर प्रभाव डालता है कि हम कैसे सोचते हैं? हम क्या महसूस करते है और कैसे हम भी याद करते हैं? इतना ही नहीं, यह हमें स्ट्रेस मैनेजमेंट के साथ-साथ हमारी पसंद और नापसंद पर भी सक्रिय रहता है। मेंटल हेल्थ हमारी जिंदगी में बचपन से शुरू होकर युवावस्था और बुढ़ापे तक के सफर को प्रभावित करता है।

मेंटल हेल्थ हमारी सेहत को कैसे प्रभावित करती है ?

मेंटल हेल्थ हमारे पूरे स्वास्थ्य पर सकारात्मक और नकारात्मक दोनों परिणाम दिखाती है। बशर्ते यह बात इस पर निर्भर करती है कि हमारी मेंटल हेल्थ कितना ठीक तरह से काम करती है और कितनी ठीक तरह से नहीं। उदाहरण के लिए देखा जाए तो मेंटल हेल्थ से जुड़ी कुछ समस्याएं जैसे डिप्रेशन के कारण हमें कई प्रकार की फिजिकल हेल्थ प्रॉब्लम हो सकती है। इसके अलावा अगर यह लंबे समय तक बना रहे तोस्ट्रोक, टाइप टू डायबिटीज और हृदय रोग का खतरा भी बढ़ जाता है।

​बचने के लिए क्या कर सकते हैं उपाय

मेंटल हेल्थ से जुड़ी हुई किसी भी प्रकार की समस्या से बचे रहने के लिए सबसे पहले आपको अपने खान-पान पर विशेष ध्यान देना चाहिए ताकि आप किसी भी प्रकार की बीमारी से सुरक्षित रहें। किसी भी बीमारी से ग्रसित होने के कारण लगातार आप उस बारे में भी सोचते रह सकते हैं और आप के दिमाग पर नकारात्मक प्रभाव ही हावी रहेगा जिसका सर मेंटल हेल्थ पर बुरा साबित होगा।

​किसी भी चीज के बारे में न सोचें ज्यादा

किसी भी ऑफिशियल काम या फिर घर की किसी भी बात के बारे में इतना ज्यादा ना सोचें कि वह बात आपके दिमाग पर हावी रहे और आप उसके कारण लगातार परेशान रहें। आप अपने काम को गंभीरतापूर्वक करें और कोशिश करें कि आप किसी भी प्रकार की टेंशन को दिमाग में ना रखें। इस कारण आपकी मेंटल हेल्थ स्वस्थ बनी रहेगी।

​किस प्रकार की डायट रहेगी सबसे बढ़िया

मेंटल हेल्थ से जुड़ी हुई किसी भी प्रकार की समस्या से बचे रहने के लिए आपको ब्रेन बूस्टर फूड्स का सेवन करना चाहिए। इन फूड्स में नट्स, डार्क चॉकलेट, पंपकिन सीड्स, ब्रोकली, हल्दी, ब्लूबेरी, फैटी फिश जैसे खाद्य पदार्थ शामिल हैं। इनका आप नियमित रूप से सेवन कर सकते हैं जो आपकी मेंटल हेल्थ को दुरुस्त रखने में काफी मदद प्रदान करेंगे।

जुड़े रहे ऐसे रोचक जानकारो के लिए

और कमेंट कर के बताये आपको कया सबसे अछा लगा

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here